प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना में ब्याज (Interest Rate) कितना है?

    क्या सभी बैंकों में ब्याज रेट अलग है।।

    Add Comment
  • 2 Answer(s)

      Mudra Yojana Interest Rates –

      मुद्रा योजना के दौरान कोई भी भारतीय नागरिक जिसकी उम्र 18 वर्ष से अधिक है वह अपने Business के लिए 10 लाख का loan ले सकता है| इसके लिए सभी बैंक में Interest Rates अलग अलग है –

      Bank Wise Rates –

      Mudra Loan BankInterest ratePeriod / Tenure
      Bank of Baroda14.15%1-3 years
      Bank of Maharashtra15.20%1-3 years
      Bank of India12.7% to 14.7%1-3 years
      Canara Bank13.65%1-3 years
      Standard Chartered Bank12.50% to 17%1-5 years
      Citibank12.75% to 15.75%1-5 years
      IndusInd Bank Ltd12.99% to 18.25%1-5 years
      Fullerton19.50% to 37%1-4 years
      ICICI Bank11.49% to 17.50%1-5 years
      Aditya Birla Finance Ltd14.00%1-3 years
      Allahabad Bank13.70%1-5 years
      Indian Overseas Bank14.70%1-5 years
      Karur Vysya Bank13.9% to 16.40%1-3 years
      Oriental Bank of Commerce11.2% to 12.95%1-5 years
      South Indian Bank14.80%1-4 years
      HDFC12.75% to 20%1-5 years
      Central Bank12.70%1-3 years
      Dena Bank13 % to 14%1-3 years
      IDBI Bank12.75% to 13.75%1-5 years
      Indian Bank12.65% to 13.65%3 years
      State Bank of India17.80%1-4 years
      Tamilnad Mercantile Bank14.4% to 16.4%1-5 years
      UCO Bank14.1% to 15.1%4-5 years
      Union Bank of India14.40%1-5 years
      Vijaya Bank13.70%1-5 years
      HDBFS15.95% to 18.95%1-3 years
      Tata Capital13.49% to 19.50%1-5 years
      Kotak Mahindra Bank11.5% to 18%1-5 years
      Capital First13% to 20%1-5 years
      Answered on June 21, 2019.
      Add Comment

        प्रधानमंत्री मुद्रा योजना:-

        प्रधानमंत्री मुद्रा योजना द्वारा युवाओं के कौशल विकास को बढ़ावा देने, रोजगार सृजन करने और नया कारोबार करने के लिए यह योजना शुरू की गयी. इसमें युवाओं को उनके कौशल को सही रूप देने के लिए वित्तीय सहयोग दिया जाता है जिससे वो अपने तरीके से अपने किसी काम की शुरुआत कर सकें और इसके साथ ही कुछ और युवाओं को उनके जरिये रोजगार मिल सके. यह सरकार की दूरदर्शी निति का परिणाम है.

        क्या है मुद्रा:-

        मुद्रा (MUDRA ) यानि की Micro Unit Development Refinance Agency असंघटित क्षेत्र के व्यवसायों पर ज्यादा जोर देता है ताकि उन कारोबारों को वित्तीय कमी की वजह से बंद न होना पड़े. यह बैंक सस्ते दरों पर लोन उपलब्ध करने को लेकर प्रतिबद्ध है.

        कैसे मिलता है:-

        आमतौर पर हम देखते हैं की दूर-दर्ज के लोग जो की सरकारी सुविधाओं से आमतौर पर या तो वंचित हैं अथवा फिर वित्तीय रूप से पूरी तरह से निर्भर नहीं हैं वो पैसे के लिए साहूकारों अथवा अन्य लोगों पर निर्भर रहते हैं. इसके बदले उन्हें भारी-भरकम ब्याज चुकाना होता है. ऐसे में असमर्थ लोग इनके चंगुल में फंसकर अपनी जमीन इत्यादि गंवा बैठते हैं. यह हाल ज्यादातर किसानो का होता है.
        इस योजना के तहत पात्र को किसी भी बैंक द्वारा लोन उपलब्ध कराया जाता है. इसमें हर वो व्यक्ति जो किसी छोटे से व्यवसाय से किसी भी रूप में जुड़ा हो चाहे स्वयं का या फिर पार्टनरशिप के द्वारा जुड़ा हो, लोन का हकदार है.

        लोन कैसे मिलेगा:-

        जो कोई भी व्यक्ति लोन लेना चाहता है उसे निम्न प्रकार से इसके लिए आवेदन करना होता है:
        -सबसे पहले व्यक्ति को बैंक जाकर लोन के लिए फॉर्म भरना होगा. मुद्रा लोन के लिए अलग से फॉर्म मिलता है.
        -फिर आवेदन फॉर्म भर कर उसके साथ जरूरी दस्तावेज लगाने पड़ेंगे.
        -जो व्यवसाय आप शुरु करना चाहते हैं उसके लिए आपको अपना प्रस्तुतिकरण देना होगा तथा उसके बारे में विस्तार में बताना होगा.
        -बैंक द्वारा मांगी जा रही सभी जरूरी प्रपत्रों को जमा करना होगा. विशेष कारणों में बैंक आपसे कुछ अलग दस्तावेज भी मांग सकता है.
        -सभी औपचारिकताएं पूरी होने के बाद बैंक आपका लोन स्वीकृत कर देगा, अगर आपके किसी दस्तावेज में कोई कमी नहीं है.

        ब्याज दर:-

        अलग-अलग बैंकों में अलग-अलग ब्याज दर हैं.
        -स्टैण्डर्ड चार्टेड बैंक                                         10.99% से लेकर  14.49%
        -सिटी बैंक                                                            11.49  से लेकर  15.99%
        -टाटा कैपिटल                                                     11.99 से लेकर   19.50%
        -आईसीआईसीआई बैंक                                   11.00 से लेकर    17.99%
        -ओरिएण्टल बैंक                                                 10.85  से लेकर   11.85%
        -एचडीएफसी बैंक                                               10.99 से लेकर  19.80%
        -इंडसइंड बैंक                                                       11.99  से लेकर   19.00%

        (हालांकि ये जानकारी मैंने पूरी तरह से रिसर्च करके दी है लेकिन बैंकों द्वारा रेपो दर या अन्य कटौती इत्यादि से ब्याज दर में कमी या अधिकता भी हो सकती है.)

        Answered on June 21, 2019.
        Add Comment

        Your Answer

        By posting your answer, you agree to the privacy policy and terms of service.