मूल्यह्रास का अर्थ क्या है? What is the meaning of Depreciation?

मूल्यह्रास के कारणों का वर्णन करें. Describe the causes for depreciation.

मूल्यह्रास की गणना करते समय कौन कौन से कारकों को ध्यान में रखा जा सकता है?

What are the factors to be taken into account while calculating depreciation?

Add Comment
  • 2 Answer(s)

      मूल्यह्रास (Depreciation)

      यह अपने निरंतर उपयोग के कारण एक परिसंपत्ति(asset) के मूल्य में कमी है मूल्यह्रास आवंटित की जाती है ताकि परिसंपत्ति(asset) की उपयोगी जीवन के दौरान प्रत्येक लेखा अवधि में क्षीण राशि का उचित अनुपात बदल सके. अगर परिसंपत्ति का मूल्य कम नहीं होता है तो यह उसके वास्तविक मूल्य को नहीं दिखाता है।
      दरअसल मूल्यह्रास परिसंपत्ति का घाटा है और इसलिए इसे निम्नलिखित प्रविष्टि में प्रवेश करके अंतिम खातों में समायोजित किया जाना है।

                                                       Depreciation A/C Dr

                                                                     To Asset a/c
      मूल्यह्रास का लाभ और हानि के डेबिट पक्ष पर प्रकट होता है
      मूल्यह्रास का कारण: –
      1-बाजार मूल्य में स्थायी गिरावट.
      2-दुर्घटना (जब कोई दुर्घटना तब होती है तो संपत्ति का मूल्य कम हो जाता है.
      3-समय का प्रभाव.
      4-समय के पास होने के लिए परिसंपत्ति का मूल्य कम हो जाएगा.
      5-बाजार में गिरावट.
      6-अप्रचलन के कारण.

      मूल्यह्रास को गणना करने के लिए कारक
      1-संपत्ति की मूल लागत.
      2-लागत का अवशिष्ट मूल्य.
      3-परिसंपत्ति(asset) का अनुमानित जीवन.
      4-संपत्ति अप्रचलित हो जाने का मौका.
      5-आय कर अधिनियम.

      Answered on March 23, 2017.
      Add Comment

        मूल्यहाश का मतलब हे, कमी या कीमत मे गिरावट इस गिरावट का संबंध बाजार से लेकर किसी वस्तु गाडि या जमीन सकिसी से भी हो सकता हे! जैसे हमने कोई नई कार खरिदी ओर खरीदने के बाद उसकी कीमत मे कुछ निश्चित दर से गिरावट होती हे जैसे 3 साल बाद उसकी कीमत सिर्फ 50% रहेगी!

        Answered on February 23, 2017.
        Add Comment

        Your Answer

        By posting your answer, you agree to the privacy policy and terms of service.