12th के बाद CS कैसे करें – Provide CS Course Details in Hindi

12th के बाद CS बनने के लिए कौन सा कोर्स करना पड़ता हैं? CS Course कितने सालों का होता हैं और इसमें किस तरह के Subjects होते हैं| इसकी Fees कितनी होती हैं साथ ही इसके लिए Coaching करनी पड़ती हैं या नहीं| क्या CS बाहरवीं (12th) के बाद किया जा सकता हैं या Graduation के बाद और इसमें Salary कितनी मिलती हैं, पूरी जानकारी दे|

Add Comment
  • 2 Answer(s)

    CS कैसे करे – Company Secretary Course Details in Hindi

    CS Course भारत में ICSI द्वारा करवाया जाता हैं जो कि self study based course हैं और जो भी विद्यार्थी tuition करना चाहता हैं वो अपनी पसंदीदा coaching institute से coaching प्राप्त कर सकता हैं| CS exam वर्ष में दो बार होते हैं और कोई भी विद्यार्थी या तो 12th के बाद या फिर Graduation के बाद CS Join कर सकता हैं|

    CA कैसे बने पूरी जानकारी हिंदी में

    CS के कार्य – Work of Company Secretary

    Company Secretary मुख्य रूप से वह व्यक्ति होता हैं जो यह सुनिश्चित करता हैं कि कंपनी से सम्बंधित सभी कार्यवाही कंपनी अधिनियम और अन्य नियमों के अनुसार हो रही हैं और सभी कानूनों का पालन किया जा रहा हैं| पब्लिक कंपनियों को अपने दिन प्रतिदिन की प्रक्रिया में Company Act और अन्य कई सारे Laws का पालन करना पड़ता है जैसे प्रत्येक मीटिंग में यह सुनिश्चित करना कि meeting कंपनी अधिनियम के अनुसार हो रही हैं और उसमें सदस्यों की संख्या आदि सही हैं| इसी प्रकार कोई भी बड़ा निर्णय लेने से पहले यह सुनिश्चित करना कि वह निर्णय सही authority द्वारा लिया गया हैं| इस प्रकार कंपनी से related legal procedures और filing का काम मुख्य रूप से company secretary करता हैं| कंपनी सेक्रेटरी किसी कंपनी में जॉब करने के आलावा प्रैक्टिस भी कर सकता हैं|

    CS कोर्स की जानकारी – Three Stages of CS Course

    सीएस कोर्स में मुख्य रूप से तीन चरण होते हैं –

    Foundation Examination – (4 Paper)

    Executive Examination – (7 Paper)

    Professional Examination – (9 Paper)

    आप इसके इसके लिए CS Online Registration कर सकते है|

    अगर विद्यार्थी 12th के बाद से CS Course शुरू करना चाहता हैं तो उसे इन तीनों exams को clear करना होता हैं| जो लोग Graduation के बाद CS Course ज्वाइन करते हैं उन्हें Foundation Exams देने की जरुरत नहीं होती और वे सीधा Executive exam से शुरुआत कर सकते हैं|

     

    Online CS Registration and Exams Dates

    CS Course का Registration कभी भी कराया जा सकता हैं और यह प्रक्रिया पूर्ण रूप से Online हैं| Registration करवाने के बाद आपको Study Material डाक सेवा के द्वारा प्राप्त हो जाता हैं| CS Exam में सबसे पहले registration करवाना होता हैं और उसके बाद ही आप exam के लिए eligible होते हैं| CS के exams वर्ष में दो बार होते हैं – June और December में, आपके लिए रजिस्ट्रेशन की last dates इस प्रकार होंगी –

    • Foundation Course – December Exam में Appear होने के लिए 31 मार्च और June Exam में Appear होने के लिए पिछले वर्ष का 30th September.
    • Executive Course And Professional Course – December Exam में appear होने के लिए 28 फरवरी और June Exam में Appear होने के लिए पिछले वर्ष का 31st August.

    सीएस एग्जाम की फीस – Fee Structure for CS Course

    CS के तीन level है, उसके हिसाब से इसकी अलग अलग फीस है, जो इसा प्रकार है –

    • Foundation Program – Rs.4500/-
    • Executive Program – 1. Rs.9000 for Commerce Graduates/CPT passed of ICAI/Foundation passed of ICAI-CMA  2.Rs.10,000/- for Non Commerce Students     3. Rs. 8,500/- for CS Foundation passed students.
    • Professional Program – Rs.12,000/- 

    CS Exam Application Fees 

    CS Registration के बाद जब भी आप exam में appear होना चाहते हैं उसके लिए आप को Online Exam Application भरना होता हैं जिसकी last dates इस प्रकार हैं –

    • June Exam के लिए 25th March (with late fee of Rs. 250/- till 9th April)
    • December Exam के लिए 25th September (with late fee of Rs. 250/- till 10th October)

    पढ़े – CS Registration Cancel करके Refund कैसे पाए|

    Medium of Exam

    • CS Exam हिंदी या अंग्रेजी दोनों में से किसी भी भाषा में दिया जा सकता हैं|
    • Institute से Study material केवल English में ही आता हैं और हिंदी माध्यम के छात्र प्राइवेट हिंदी बुक्स से पढाई कर सकते हैं|

    Qualifying Marks

    • CS exam clear करने के लिए प्रत्येक subject में कम से कम 40% अंक और पूरे group में कम से कम 50% अंक लाने होते हैं|
    • अगर वह किसी विषय में 60% अंक ले आता हैं तो वह विषय clear हो जाता हैं लेकिन minimum 25% आने चाहिए|

    Practical Training

    • Executive program या professional program clear करने के बाद विद्यार्थी को 15 महीने की practical training (internship) करनी होती हैं|
    • यह ट्रेनिंग किसी कंपनी या किसी प्रक्टिसिंग कंपनी सेक्रेटरी के under की जा सकती हैं|

    पढ़े – CA कैसे बने पूरी जानकारी हिंदी में|

    Answered on May 18, 2017.
    Add Comment

    CS कैसे बने इसकी पूरी जानकारी –

    कंपनी सचिव/सेक्रटरी -Company Secretary (CS) – CS कंपनी का सेक्रटरी जो कंपनी कि जिमेदारियो को संभालता है और देखता है कि कानून के नियमो का पालन हो रहा है या नही कंपनी का विकास हो रहा है या नही कंपनी सेक्रटरी उन हाउस लॉयर्स कि तरह होते है जो किसी संगठन में कॉर्पोरेट डिपार्टमेंट कि हर गतिविधियों यानि काम करने के तरीको पर धेयाँ रखता है देख रेख करता है जिसे जैसे लॉ ,मैनेजमेंट ,फाइनेंस आदि कि जानकारी का होना जरुरी होता है उसका काम ही यही होता है

    कंपनी सचिव/सेक्रटरी -Company Secretary (CS बनने के लिये कोर्स करना जरुरी है जिसके लिए आपको इसकी परीक्षा के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है इसके लिए आपको CS यानि कंपनी सचिव का कोर्स करना पड़ता है पुरे देश में जो संस्था इसको करती है उसका नाम (इंस्टिट्यूट ऑफ़ कंपनी सेक्रटरी ऑफ़ इंडिया -institute of company secretory of India ) है|

    जहा तक मुझे पता है आप 12 वी (आर्ट्स ,साइंस,कॉमर्स ) के बाद कर सकते है| हा अगर आप 12 वी के बाद करते है तो आपको 3 एग्जाम देने होते है

    1.फाउंडेशन प्रोग्राम – Foundation program (4 पेपर ),

    2.एग्ज़िक्युटिव प्रोग्राम – Executive program (7 पेपर),

    3.प्र्फेशनल प्रोग्राम – Professional program (9 पेपर)

    आप CS के लिए Online Registration कर सकते है|

    अगर आप ग्रेजुएशन के बाद करते है तो आपको सिर्फ 2 एग्जाम को क्लियर करना होता है

    1. एग्ज़िक्युटिव प्रोग्राम – Executive program (7 पेपर),

    2. प्र्फेशनल प्रोग्राम – Professional program (9 पेपर)

    साथ ही आपको प्रेक्टिकल ट्रेनिंग भी करनी होती है, जो 18 माह की होती हैं|

     

    CS Course Fees की जानकारी –

    यह एक ऐसा कोर्स है जिसमे न जॉब अच्छी है बल्कि एक CS शुरुआत में साल के 3 लाख से लेकर 5-6 लाख रुपए कमा लेता है experience होने के बाद साल में 15-20 लाख रुपए मिल सकता है practice करने वाले CS को ओपीनियन और हियरिंग के बेस पर 25-30 हजार से लेकर 70-75 हजार रूपये हो सकती है

    कोर्स फीस -फाउंडेशन कोर्स कि फीस 3600 रूपये,एग्ज़िक्युटिव प्रोग्राम में कॉमर्स के छात्रों कि 7000 और नॉन कॉमर्स 7750 और प्रफेशनल कोर्स 7500 रूपये है|

    • फाउंडेशन program–इसमें आपको business communication(बिज़नस कम्युनिकेशन),economics (अर्थशास्त्र), Statistics( संखियिकी ),financial accounting(फाइनेंसियल एकाउंटिंग ),business law (बिज़नस लॉ ),management applyment (मैनेजमेंट एप्प्लिमेंट) के बारे में बताते है|
    • एग्ज़िक्युटिव प्रोग्राम – commercial law (कॉमेरिकल लॉ ),company accounts (कंपनी एकाउंट्स ),cast & management accounting (कास्ट एंड मैनेजमेंट एकाउंटिंग),tax law (टैक्स लॉ ),जैसे आर्थिक और श्रम कानून ,सुरक्षा के कानून आदि में समझाते है|
    • प्रफेशनल प्रोग्राम – इसमें दोनोंर को पास करने के बाद 8 माड्यूल्स कि तेयारी करे जाती है इसमें कंपनी सेक्रटरी प्रेक्टिस ,ड्राफ्टिंग (drafting),फारेक्स मैनेजमेंट ( fakers management),एडवांस्ड टैक्स लॉ एंड प्रेक्टिस (advanced tax law & practice), आदि सब्जेक्ट (subjects) है|
    • में आशा करता हूँ की आप भविष्य उज्वल हो इसके साथ ही आप CA कैसे करे की पूरी जानकारी भी प्राप्त कर सकते है|

     

    Answered on May 16, 2017.
    Add Comment

    Your Answer

    By posting your answer, you agree to the privacy policy and terms of service.