ई-गवर्नेंस क्या हैं ? What is E-Governance in Hindi

ई-गवर्नेंस का क्या अर्थ हैं? E-Governance का उपयोग कहाँ और किस प्रकार होता हैं? इसके क्या उद्देश्य होते हैं ? उदाहरण दीजिये

Add Comment
  • 2 Answer(s)

    E-governance Mean in Hindi

     

    ई- गवर्नेंस का मतलब होता है, सभी प्रकार के सरकारी काम काजो को Online Service के जरिए जनता तक पहुंचाना| जिससे जनता के समय की बचत हो और उन्हें सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने की जरुरत ना पड़े| देखा जाए तो सरकारी काम इतना बढ़ गया है, की एक Normal इंसान को समझ नहीं आता की वह क्या करे और वो इससे बहुत परेशान हो जाता है| इसी लिए सरकार ने e-governance को बढ़ावा दिया है, जिसके जनता को मदद मिल सके|

    E-governance Meaning

    सीधे शब्दों में कहें तो e-governance के तहत ज्यादातर सरकारी कार्य को Online कर दिया है, जिससे जनता की परेशानी कम हो और साथ ही साथ उनके समय तथा पैसे की बचत की जा सके| इस प्रणाली के तहत सरकारी कार्यालय में जनता के कार्य के लिए एक समयसीमा तय कर दी है, जिससे कार्य की रफ़्तार बढे, रिश्वतखोरी कम हो और जनता के काम आसानी से हो जाए|

    आप ज्यादातर सरकारी सेवाओं का लाभ Online ले सकते है| E-governance के अंतर्गत इन सेवाओं को ज्यादा से ज्यादा जनसामान्य तक पहुँचाने का प्रयास किया जा रहा है| इसमें कई सारी सेवाए है, जिसमे आपको कही जाने की जरुरत नहीं पड़ती, बस अपने Mobile Internet या अन्य किसी Online माध्यम से आप इनका लाभ ले सकते है| जैसे:- आप Online Banking, और GST से जुड़े काम कर सकते है| आप बिजली बिल, पानी का बिल, Income Tax, Insurance आदि का भुगतान कर सकते है और आप पेन कार्ड, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, राशन कार्ड, पासपोर्ट, पहचान पत्र, जाति प्रमाण पत्र, प्रमाण पत्रों का सत्‍यापन, वोटर Id कार्ड, रेल टिकट बुकिंग, बस टिकट बुकिंग, दैनिक बाजार भाव, मनरेगा आवेदन, आयकर रिटर्न फाइलिंग आदि से जुड़े कई सारे कामो को ONLINE ही E-Governance के माध्यम से कर सकते है|

    यहाँ तक आप और भी कई सारे सरकारी Registration या Form को भरने सम्बन्धी कार्यो को Online कर सकते है| अब तो अदालतों को भी कई जगह Online कर दिया है और बहुतो को करने पर काम चल रहा है|

     

    Types of E-governance

    E-governance 4 प्रकार की होती है और चारो की एक अलग प्रणाली तथा कार्य श्रंखला होती है| जिसके तहत वह कार्य करती है, इसमे एक पूरा System बना होता है, जो उदेश्य प्राप्ति के लिए मदद करता है| इसके प्रकार कुछ इस प्रकार है:-

    1. G2G (Government to Government):- जी 2 जी यानी सरकार से सरकार, जब सूचना और सेवाओं का आदान-प्रदान सरकार की परिधि में होता है, इसे जी 2 जी इंटरैक्शन कहा जाता है| यह विभिन्न सरकारी संस्थाओं और राष्ट्रीय, राज्य और स्थानीय सरकारी संस्थाओं के बीच और इकाई के विभिन्न स्तरों के बीच कार्य करता है।

    2. G2C (Government to Citizen):- जी 2 सी यानी सरकार से नागरिक, यह सरकार और आम जनता के बीच बातचीत को जी 2 सी कहते है। यहां एक प्रकिया सरकार और नागरिकों के बीच स्थापित कि गई है, जिससे नागरिक विभिन्न प्रकार की सार्वजनिक सेवाओं तक पहुंच सकते हैं। नागरिकों को किसी भी समय, कहीं भी सरकारी नीतियों पर अपने विचारों और शिकायतों को साझा करने की स्वतंत्रता है।

    3. G2B (Government to Business):- जी 2 बी यानी सरकार से व्यवसाय, इसमे ई-गवर्नेंस बिजनेस क्लास को सरकार के साथ सहज तरीके से बातचीत करने में मदद करता है। इसका उद्देश्य व्यापार के माहौल में और सरकार के साथ बातचीत करते समय पारदर्शिता स्थापित करना है।

    4. G2E (Government to Employees):- जी 2 ई यानी सरकार से कर्मचारी, किसी भी देश की सरकार सबसे बड़ी नियोक्ता है और इसलिए वह नियमित आधार पर कर्मचारियों के साथ काम करती है, यह सरकार और कर्मचारियों के बीच कुशलता और तेजी से संपर्क बनाने में मदद करता है, साथ ही उनके लाभों को बढ़ाकर उनके संतुष्टि स्तर तक पहुँचाने में मदद करता है|

     

    Purpose of E-governance

    E-Governance का मुख्य उदेश्य भ्रष्टाचार कम करना, अधिक से अधिक जनसामान्य के जीवन स्तर में सुधार करना, सरकार और जनता के बीच पारदर्शिता लाना, सुविधा में सुधार करना, GDP में वृद्धि करना और सरकारी कार्य की गति बढ़ाना आदि है|

    Answered on August 25, 2017.
    Add Comment

    E governance refers to information and communication technology ict enabled route to better governance.

    Answered on December 1, 2017.
    Add Comment

    Your Answer

    By posting your answer, you agree to the privacy policy and terms of service.