FMC क्या है? एफ एम सी का कार्य क्या है? – what is FMC full form? FMC work details?

FMC ka pura naam ? FMC ka karya kshetra?

Add Comment
  • 2 Answer(s)

    फ़ॉरवर्ड मार्केट कमीशन

    FMC का पूरा नाम है, फ़ॉरवर्ड मार्केट कमीशन (Forward market commission)।

    फ़ॉरवर्ड मार्केट कमीशन भारत में कमोडिटी फ्यूचर्स मार्केट के संचालन और गतिविधियों को नियंत्रित करने और नियंत्रित करने वाली भारत में विनियामक प्राधिकरण है। यह उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय के अंतर्गत आता है क्योंकि भारत में कारोबार किए जाने वाले फ्यूचर्स पारंपरिक रूप से खाद्य वस्तुओं में हैं। इसका मुख्यालय मुंबई में और कोलकाता में एक क्षेत्रीय कार्यालय है।

    28 सितंबर, 2015 को फ़ॉरवर्ड मार्केट कमीशन को सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया के साथ मिला दिया गया था।

    वर्तमान में पांच राष्ट्रीय आदान-प्रदान, जैसे इंडियन कमोडिटी एक्सचेंज लिमिटेड, नेशनल कमोडिटी एंड डेरिवेटिव्स एक्सचेंज, नेशनल मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज, मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज,  और एसीई डेरिवेटिव्स और कमोडिटी एक्सचेंज, 113 कॉमोडिटीज़ में फॉरवर्ड ट्रेडिंग को विनियमित करते हैं।

    निम्नलिखित एक्सचेंजों पर कारोबार किए गए कमोडिटीज में शामिल हैं:

    धातु: सोने, चांदी,  जस्ता, तांबा आदि।

    अनाज: गेहूं, मक्का, दाल, बाजरा, आदि।

    फाइबर: जूट, कपास,  आदि।

    खाद्य तिलहन: सूती बीज, सूरजमुखी, चावल की भूसी तेल, सोया तेल, मूंगफली, सरसों का बीज आदि।

    मसाले: जीरा हल्दी, काली मिर्च, आदि।

    अन्य: कच्चे तेल गुर,  प्राकृतिक गैस, रबर आदि।

    फॉरवर्ड मार्केट कमीशन के कार्य निम्नानुसार हैं:

    1.  फॉरवर्ड कॉन्ट्रैक्ट्स (विनियमन) अधिनियम, 1952 के प्रशासन के परिणामस्वरूप किसी भी संघ से मान्यता या त्याग के संबंध में केंद्र सरकार को सलाह देना या किसी भी एसोसिएशन से मान्यता वापस लेने के लिए केंद्र सरकार को सलाह देना।

    2 . फ़ॉरवर्ड मार्केट कमीशन समय-समय पर किसी भी संगठन के कार्य-संचालन के साथ आगे के बाजारों को बढ़ाने के लिए सुझाव प्रदान करता है।

    3.  जब आवश्यक हो, तो वस्तुओं के संबंध में व्यापार शर्तों के बारे में जानकारी प्रकाशित करने के लिए, इकाई को चेक-चेक करने और खातों का निरीक्षण करने के साथ ही पंजीकृत संगठनों के साथ-साथ उनके सदस्यों के अन्य दस्तावेजों का निरीक्षण करने का भी अधिकार होता है।

    4.  फॉर्वर्ड मार्केट कमीशन, 15 मसाले, 44 खाद्य तेलों, 6 दालों, 4 ऊर्जा उत्पादों, एकल वनस्पति, 20 धातु वायदा और 33 अन्य कमोडिटीज में फ्यूचर्स कारोबार की अनुमति देता है।

    5.  फॉरवर्ड मार्केट कमीशन ने संकटग्रस्त कंपनी में धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग गतिविधियों वाले गोदाम प्रथाओं का पर्दाफाश किया है। इस मामले के बारे में प्रवर्तन निदेशालय को सूचित और अन्य संबंधित अधिकारियों को रिपोर्ट करने के लिए इकाई भी जिम्मेदार है।

    6.  फॉरवर्ड मार्केट कमीशन आयोग के साथ-साथ फ्यूचर्स मार्केट के कार्यान्वयन और सुधार के लिए सुझाव प्रदान करता है।

    7.  फॉरवर्ड मार्केट कमीशन विभिन्न वस्तुओं के व्यापार स्थितियों के बारे में जानकारी इकट्ठा करने और प्रकाशित करने के लिए अनिवार्य है। ये विवरण मांग, आपूर्ति और कीमतों के बारे में हैं।

    8.  यह भविष्य में वस्तुओं के बाजार पर सतर्कता रखता है और उपभोक्ताओं के हित और विकास में और बाजारों में अपनी शक्तियों का भी इस्तेमाल करता है।

    Answered on April 4, 2017.
    Add Comment

    FMC का पूरा नाम क्या है

    इस संस्था को विस्तार में फॉरवर्ड मार्केट कमीशन (Forward Market commission) कहा जाता है।

    FMC का कार्य क्षेत्र क्या है?

    FMC का मुख्य कार्यालय महाराष्ट्र में मुंबई शहर में स्थित है। इस संस्था का मुख्य कार्य हमारे देश में खाध्य फसलें, सोना चाँदी एवं तेल, जैसी चीजों की खरीद और बिक्री पर नियंत्रण रखना होता है। FMC संस्था की स्थापना वर्ष 1953 में की गयी थी।

    Answered on April 4, 2017.
    Add Comment

    Your Answer

    By posting your answer, you agree to the privacy policy and terms of service.