Income Tax Return फाइल करना किन किन लोगों के लिए जरुरी हैं?

किन किन लोगों के लिए Income Tax रिटर्न फाइल करना जरुरी हैं? अगर किसी व्यक्ति Income 2,50,000 से कम हैं तो क्या उसे भी Income Tax return फाइल करना पड़ेगा?

Add Comment
  • 1 Answer(s)

      Income Tax Rules – Mandatory Return Filing Requirement

      इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) आपकी वार्षिक आय का विवरण होता हैं जिसमें आपको आय के स्त्रोत और उसपर लगने वाले टैक्स की पूरी जानकारी देनी होती हैं| जब आप Income Tax रिटर्न फाइल करते है तो यह एक तरह आपकी आय का प्रूफ होता हैं जिसके आधार पर लोन आदि प्राप्त कर सकते हैं| हालांकि ITR File करने के बहुत सारे फायदे हैं लेकिन प्रत्येक  व्यक्ति के लिए ITR फाइल करना जरुरी नहीं हैं|

       

      किन लोगों के लिए Income Tax फाइल करना जरुरी हैं

      Income Tax Rules के अनुसार निम्न लोगों के लिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना आवश्यक हैं| अगर वे रिटर्न फाइल नहीं करते हैं तो उन पर पेनल्टी लग सकती हैं| अगर आप निम्न केटेगरी में नहीं आते तो Income Tax Law के अनुसार आपको लिए ITR फाइल करना जरुरी नहीं हैं लेकिन आपको ITR फाइल करना चाहिए क्योंकि अगर आप Loan या अन्य तरह के महत्वपूर्ण वित्तीय या व्यावसायिक लेनदेन करते हैं तो उसमें पिछले 2-3 वर्ष के Income Tax Return की कॉपी मांगी जाती हैं और ऐसी स्थिति में अगर आपने ITR फाइल नहीं किया होगा तो आपका काम अटक सकता हैं|

      Individual Taxpayer

        • ऐसे व्यक्ति जिनकी उम्र 60 वर्ष से कम हैं और उनकी वार्षिक ग्रॉस इनकम 2,50,000 से अधिक हैं|
        • ऐसे व्यक्ति जिनकी उम्र 60 वर्ष से अधिक हैं लेकिन 80 वर्ष से कम हैं और उनकी annual gross income Rs 3,00,000 से अधिक हैं|
        • ऐसे व्यक्ति जिनकी उम्र 80 वर्ष से अधिक हैं और उनकी total annual gross income Rs5,00,000 से अधिक हैं|

       

      Partnership Firm/Company

      एक कंपनी या साझेदारी फर्म के लिए ITR फाइल करना जरुरी हैं भले ही कंपनी या पार्टनरशिप फर्म का Profit/Loss कितनी भी हो|

      अन्य परिस्थितियां जिसमें रिटर्न फाइल करना जरुरी हैं

        • अगर आप टैक्स रिफंड क्लेम करना चाहते हैं
        • अगर आप Indian Resident हैं और आपका विदेश में कोई सम्पति या फाइनेंसियल एसेट/अकाउंट/इंटरेस्ट हैं
        • अगर किसी ऐसी प्रॉपर्टी के विक्रय से आय होती हैं जो कि किसी charitable trust, religious trust, political party, educational institution, any authority, body or trust आदि के नाम से ली हुई थी|
        • ऐसी विदेशी कंपनी जिसको किसी संधि के तहत भारत में हुए लेनदेन से सम्बंधित कोई छूट प्राप्त होती हैं
        • अगर आप NRI (Non-Resident Indian) हैं और आपकी भारत में 2.5 लाख रूपये से अधिक की इनकम कमाई हैं (total annual gross income earned or accrued in India exceeds Rs2,50,000)
      Answered on July 16, 2018.
      Add Comment

      Your Answer

      By posting your answer, you agree to the privacy policy and terms of service.