प्रत्यक्ष कर क्या होते है – What is the meaning of Direct Taxes in Hindi

Pratyaksh Kar ka kya matlab hai? Pratyaksh Kar Kitne Prakar ke hote hai? What is Direct Taxes ? Please explain in hindi

Add Comment
  • 4 Answer(s)

    डायरेक्ट टैक्स,(Direct Taxes)

    एक ऐसा टैक्स जिसे किसी व्यक्ति या संगठन द्वारा सीधे सरकार को दिए जाते हैं। यह सरकार द्वारा प्रत्यक्ष रूप से व्यक्तियों और संगठनों पर लागू कर टैक्स है जैसेआयकर, निगम कर, संपत्ति कर आदि

    व्यक्ति या संगठन मुख्य उद्देश्यों के लिए सरकार को प्रत्यक्ष कर का भुगतान करता है। जहां कर एक इकाई पर लगाया जाता है जिस संगठन पर टैक्स लगाया जाता है वह कर भुगतान की पूर्ति के लिए जिम्मेदार है। प्रत्यक्ष कर अप्रत्यक्ष करों से अलग हैं

    डायरेक्ट टैक्स के प्रकार

    आयकर

    आयकर अधिनियम के तहत आयकर का भुगतान किसी दिए गए वित्तीय वर्ष में अपनी कर योग्य आय के आधार पर किया जाता है। आयकर विभिन्न दरों के अनुसार भुगतान किया जाता है तो कर देय है।

    निगम कर

    निगम कर का भुगतान किसी वित्तीय वर्ष में अर्जित आय पर भारत में कार्यरत कंपनियों और व्यवसायों द्वारा किया जाता है।

    धन कर

    धन कर 30,00,000 रुपये से अधिक के किसी भी आकलन के शुद्ध संपत्ति के 1% की दर से लगाया जाता है। वाणिज्यिक संपत्ति, स्टॉक, बांड, फिक्स्ड डिपॉजिट, म्यूचुअल फंड आदि शामिल है। वित्तीय वर्ष में अपनी संपत्ति के मूल्य पर व्यक्तियों, या कंपनियों पर धन कर लगाया जाता है।

    पूंजी लाभ कर

    संपत्ति की बिक्री जैसेस्टॉक, बॉन्ड, आवासीय संपत्ति, कीमती धातु आदि पर किए गए लाभ कैपिटल गेनस पर पूंजी लाभ कर लगाया जाता है। पूंजी लाभ कर दो अलगअलग दर पर लगाया जाता है। शोर्ट टर्म कैपिटल गेन टैक्स और लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स संपत्ति के विभिन्न वर्ग शामिल है।

    Answered on March 22, 2017.
    Add Comment

    Tax

    देश के किसी राज्य द्वारा नागरिकों या संस्था (legal entity) से जो अधिभार या धन लिया जाता है उसे कर या टैक्स कहा जाता हैं। राष्ट्र के अधीन आने वाली विविध संस्थाएँ भी भिन्न प्रकार के कर लगातीं हैं। सामान्य शब्दों में कहा जाये तो एक तरफ इसे जनता पर बोझ के रूप में देखा जा सकता है वहीं इसे government को चलाने के लिये आधारभूत आवश्यकता के रूप में भी समझा जा सकता है।

     

    कर दो तरह के हो सकते हैं

    प्रत्यक्ष कर (direct tax)  –

    यह वो tax होते हैं जो directly आप की आय पर लगाये गए होते हैं। means अगर आप government की तेय की गयी exemption रकम से अधिक income कमा रहे हैं तो आप को उस रकम पर कुछ प्रतिशत Tax government को देना होता है। यह एक प्रकार का direct tax होता है।

    अप्रत्यक्ष कर (indirect tax)

    मान लीजिये आप किसी होटल गए कुछ खाना ऑर्डर किया और जब बिल आया तो उसमें काही लिखा होगा service tax इतने रूपये या या उतने रूपये। अब ये हुआ अप्रत्यक्ष कर। जो एक उपभोगता अप्रत्यक्ष रूप से चुकाता है। VAT,CST, SERVICE, EXCICES और भी कई तरह के tax होते हैं जो ग्राहक अलग अलग जगह पर “अप्रत्यक्ष कर” चुकाता है।

    In Short –  जो भी tax income पर लगे वो direct tax ओर उसे छोड़ कर बाकी चीज़ों पर लगने वाले taxes को Indirect tax की सूची में शामिल किया जा सकता है।   

     

    Answered on March 22, 2017.
    Add Comment

    प्रत्यक्ष कर(direct tax) प्रत्यक्ष कर ऐसे कर होते है जिनको वही व्यक्ति देता है जिन पर ये लगाये जाते है ।प्रत्यक्ष कर में करदाता नकद रूप से कर अपने अधिकारी को देता है ।प्रत्यक्ष कर का दबाव तथा भार अंतिम रूप से उसी व्यक्ति पर पड़ता है जिस पर सरकार द्वारा लगाया जाता है। इस कर को करदाता दूसरे व्यक्ति पर नही डाल सकता ।आय का, निगम कर और भूमि कर प्रत्यक्ष कर के उदाहरण है।
    कर दो तरह के होते है
    १- प्रत्यक्ष कर
    २- अप्रत्यक्ष कर
    प्रत्यक्ष कर- प्रत्यक्ष कर वह है जो उसी व्यक्ति से माँगा जाता है जिससे यह आशा था इच्छा की जाती है कि वह उसे अपने पास दे देगा
    अप्रत्यक्ष-, अप्रत्यक्ष कर वह कर है जो किसी व्यक्ति से इस इच्छा अथवा आशा से माँगा जाता है किसी दूसरे से इस कमी को पूरा कर लेगा

    Answered on March 22, 2017.
    Add Comment

    हर आदमी पैसा कमाता है. और अपने परिवार और समाज के विकास में उसका उपयोग करता है. लेकिन, इस कमाए गए सभी पैसो का अकेले इस्तेमाल नही कर सकते है. इसमें से कुछ हिस्सा हमें संबंधित सरकार को देना पडता है. जिसे हम “कर” के नाम से जानते है. कर मुख्य रूप से दो प्रकार का होता है.

    1. प्रत्यक्ष कर (Direct Tax)
    2. अप्रत्यक्ष कर (Indirect Tax)

    हम अब बात करेंगे कि प्रत्यक्ष कर के बारे में . क्या होता है प्रत्यक्ष कर? कितने प्रकार का होता है प्रत्यक्ष कर? आइए जानते है. प्रत्यक्ष कर के बारें में.

    प्रत्यक्ष कर क्या होता है?

    वह कर जो करदाता (Taxpayer) द्वारा संबंधित सरकार को सीधा भुगतान किया जाता है. प्रत्यक्ष कर कहलाता है. इसे करदाता सीधा सरकार को देता है. इसे किसी सेवा या कार्य के रुप में नही लिया जाता है. इस कर को सीधा नागरिकों और संस्थाओं के ऊपर लगाया जाता है. इसका हसतांतरण नही किया जा सकता है.

    प्रत्यक्ष कर के प्रकार

    प्रत्यक्ष कर को कई रूप में वर्गीकृत किया जा सकता है. इस कर का वर्गीकरण वास्तव में संबंधित देश की सरकार के वर्गीकरण पर निर्भर करता है. इसलिए प्रत्यक्ष कर कई प्रकार का हो सकता है. नीचे आपको प्रत्यक्ष कर के मुख्य प्रकार के बारे में बताया है.

    आयकर (Income Tax): यह कर सीधा व्यक्ति की आय पर लगाया जाता है. जिसका निर्धारण आयकर योग्य शुद्ध आय के आधार पर किया जाता है. यह व्यक्ति की आय के अनुसार अलग-अलग होता है. इसे व्यक्तिगत, फर्मों, कम्पनियों आदि के ऊपर पर लगाया जाता है.

    निगम कर (Corporate Tax): इस कर को शेयरधारकों से अलग कम्पनियों के ऊपर लगाया जाता है. यह ज्यादातर बडी-बडी कम्पनियों और विदेशी कम्पनीयों के ऊपर लगाया जाता है.

    सम्पति कर (Wealth Tax): जैसा नाम से ही मालुम पडता है. इस कर को सम्पति के ऊपर लगाया जाता है. जिसका निर्धारण उस सम्पति के वर्तमान बाजार मूल्य के आधार पर किया जाता है.

     

    Answered on March 22, 2017.
    Add Comment

    Your Answer

    By posting your answer, you agree to the privacy policy and terms of service.