साबुन का रंग चाहे कैसा भी हो लेकिन उसका झाग हमेशा सफ़ेद ही क्यों होता हैं?

    Sabun lal ho ya hara lekin Sabun ka jhag safed hi kyo hota hai? Why does a Coloured Soap produce white foam?

    Add Comment
  • 1 Answer(s)

      साबुन का झाग सफेद होता है क्योकि-

      साबुन के झाग का रंग सफेद होता है इसके पीछे साइंस है क्योकि साइंस मे कहा गया है की किसी भी वस्तु का अपना रंग नहीं होता है बल्कि उस वस्तु पर प्रकाश की किरणें पड़ती है तो वह सभी रंगों को सोख कर किसी एक रंग को प्रदर्शित करती है, तो वही उस वस्तु का रंग बन जाता है| जब कोई वस्तु या प्रदार्थ सभी रंगों को आर-पार कर देता है या रंगों को बिखेर देता है तो वह वस्तु सफेद दिखाई देती है, लेकिन जब वस्तु सभी रंगों को सोख लेती है तो वह वस्तु काले रंग की हो जाती है|

      साबुन के झाग के सफेद होने मे यही नियम लागु होता है, किसी भी वस्तु की तीन अवस्थाएँ  ठोस, द्रव्य, गैस है, लेकिन साबुन का झाग ठोस नहीं है जो प्रकाश की किरणों को सोख ले| झाग हवा, पानी, तथा साबुन से बनी एक पतली परत होती है, जब यह परत गोल आकार ले लेती है तो हम इसे बुलबुला कहते है, साबुन के झाग मे ऐसे ही छोटे-छोटे बुलबुलो का ग्रुप होता है|

      जब प्रकाश एक बुलबुले मे जाता है तो प्रकाश अलग-अलग दिशाओ मे परिवर्तित हो जाता है, अर्थात् प्रकाश एक जगह पर एकत्रित न होकर विभिन दिशा मे फैल जाता है इसी कारण से बुलबुला सफेद अथवा पारदर्शी दिखाई देता है, तथा इसमे एक भी रंग स्पष्ट रूप से नहीं देखाई देते है| विज्ञान के इसी नियम के कारण आसमान का रंग भी सफेद दिखाई देता है| साबुन के बुलबुलों मे प्रकाश इतनी तेजी से परिवर्तित होता है की हम सातों रंगों को एक साथ नहीं देख पाते या फिर एक भी रंग नहीं देख पाते और झाग सफेद रंग के दिखाई देते है| एक बात यह भी है की साबुन का रंग उसके झाग मे नहीं देखता क्योकि साबुन जब पानी मे घुलता है तो वह अपना रंग छोड़ देता है|

      Answered on April 20, 2018.
      Add Comment

      Your Answer

      By posting your answer, you agree to the privacy policy and terms of service.